Loading

Enquiry
Enquiry
digital advertising
Contact Form

पॉप सिंगर जॉर्ज माइकल

जॉर्ज माइकल 25 जून 1963, में उत्तरी लंदन के पूर्व फिनशले में पैदा हुए थे जॉर्ज माइकल का वास्तविक नाम जॉर्जियोस किरियाकोस पनाईओटोऊ था। उनके पिता का नाम किरियाकोस पनाईओटोऊ था जो एक ग्रीक किप्रियोट रेस्तरां मालिक भी थे, उनके पिता 1950 के दशक में इंग्लैंड आ गए थे और उन्होंने अपना नाम बदलकर जैक पानोस रख लिया। माइकल की मां का नाम लेज़ली एंगोल्ड हैरिसन था जो एक अंग्रेजी डांसर थी, उनकी माँ की 1997 में कैंसर से मौत हो गई थी। माइकल ने अपना बचपन 1980 के दशक में उत्तरी लन्दन के उस घर में बिताया था, जिसे उनके माता-पिता ने उनके पैदा होने के बाद खरीदा था। किशोरावस्था के शुरूआती दौर में ही माइकल का परिवार रैडलेट चला गया था और वहां माइकल ने बुशी मीड्स स्कूल में प्रवेश  लिया, जहां पर वो एंड्रयू रिजेले से मिले. माइकल और एंड्रयू दोनों ही संगीतकार बनना चाहते थे उसके बाद जॉर्ज ने अपने मित्र एंड्रयू रिजेले के साथ मिलकर व्हाम नाम का एक बैंड बनाया। जॉर्ज माइकल ने दो बार ग्रैमी अवार्ड भी जीता था और वो एक अंग्रेजी गायक, गीतकार थे जिन्हें 1980 में प्रसिद्धि मिली थी 1988 में, उन्हें आई न्यू यू आर वेटिंग के लिए ग्रैमी अवॉर्ड भी मिला था। माइकल के प्रसिद्ध एलबम में फेथ, लिसेन विदाउट प्रीज्यूडाइस, ओल्डर, सौंग्स फॉर्म द लास्ट सेंचुरी तथा पेशेंस है। माइकल का पहला एकल केयरलेस व्हिस्पर तब रिलीज़ हुआ जब उनकी जोड़ी थी और उन्होंने उस अल्बम की दुनिया में छह मिलियन प्रतियां बेची थी.
जॉर्ज ने एकल कलाकार के रूप में 2010 तक दुनिया में 100 मिलियन से भी ज्यादा प्रतियां बेची थी, जिसमें से 7 ब्रिटिश 1 एकल, 7 ब्रिटिश 1 एल्बम, 8 अमेरिकी 1 एकल तथा 1 अमेरिकी 1 एल्बम भी शामिल है। 1987 में, रिलीज हुए उनके पहले एकल एल्बम फेथ की दुनिया में 20 मिलियन से भी अधिक प्रतियां बिकी तथा उसने अमेरिका में कई रिकॉर्ड और उपलब्धियां हासिल की. 2004 में, रेडियो एकेडमी ने माइकल को 1984 से 2004 तक ब्रिटिश रेडियो पर सबसे ज्यादा बजाये जाने वाले कलाकार का दर्जा दिया. अभी हाल ही में 25 दिसम्बर 2016 में 53 साल की उम्र में माइकल की मौत हो गयी उनकी मौत से पूरे संगीत जगत में दुख की लहर दौड़ गई थी उनके जैसा संगीतकार शायद ही इस दुनिया में कोई और हो,


Binoculars/Information