Loading

Enquiry
Enquiry
digital advertising
Contact Form

गांव की आधारशिला "सरपंच"

सरपंच के विषय में भी जान ले .बहुत जरूरी है सरपंच को जानना .शिक्षित सरपंच का होना बहुत जरूरी है. हरयाणा सरकार द्वारा लिए गए फैसले के सन्दर्भ में क्या कुछ खबर पता है आपको ?हरयाणा सरकार पढ़े लिखे पंच और सरपंच के लिए कोर्ट में केस तक लड़ रही है.किसी गाँव के लिए उसके सरपंच की क्या भूमिका है मुखियारूप में सरपंच के कौन-कौन से काम है. आइये जानते है .किसी भी गांव का सरपंच उस गाँव की रीढ़ होती या होता है .और यदि वो ही अशिक्षित (मुखिया) हो तो फिर आप समझ सकते है कि, गाँव किस दिशा में प्रगति करेगा.इसीलिए तो किसी भी सरपंच का ईमानदार व पढ़ा लिखा होना बहुत जरूरी है.
                                      भारतीय ग्राम पंचायत की व्यवस्था   
भारत की पंचायत राज व्यवस्था के अनुरूप, गाँव में ग्राम पंचायत एक लोकल गवर्नमेंट का किरदार निभाती है. हर पांच साल में ग्राम पंचायत का चुनाव होता है. इसमें सीटें SC,BC  महिलाओ की मेजोरिटी के अनुरूप सुरक्षित की जाती है. अनुमानित तौर पर भारत में  250000 ग्राम पंचायते होगी . 
  
प्रमुख रूप में ग्राम पंचायत की जिम्मेदारियां ये सभी है-

 1. ग्राम पंचायत की जिम्मेदारी है -घरेलु उपयोग के लिए पानी का इंतजाम किया जाना .

2. ग्राम पंचायत की जिम्मेदारी है - पशुओं को पीने योग्य पानी की व्यवस्था की जाए . और  जोहड़ का उचित रख रखाव किया जाए .

3. ग्राम पंचायत की जिम्मेदारी है - पशु पालन व्यवसायों को बढ़ाने पर जोर देना. दूध  केंद्र ,डेरी की उचित व्यवस्था करना.इसके साथ ही दुधारू पशुओ के लिए उचित खाद्य सामग्री का प्रबन्ध कराना .पशुओं में होने वाली बीमारी से उनका बचाव करना और बीमारी को  फैलने से रोकना .

4. ग्राम पंचायत की जिम्मेदारी है - गाँव की सड़के पक्की बनवाना तथा सड़को के रख रखाव की उचित व्यवस्था करना .

5. ग्राम पंचायत की जिम्मेदारी है - सिचाई के साधन की व्यवस्था करने में ग्रामीणों की मदद करना. 

6. ग्राम पंचायत की जिम्मेदारी है -  गाँव में उचित स्वच्छता बनाये रखना और ग्रामीणों की सेहत को स्वास्थ्य बनाए रखने हेतु उचित व्यवस्था करना.

7. ग्राम पंचायत की जिम्मेदारी है - गाँव में स्थित पब्लिक बिल्डिंग्स को ,घास वाली जमीन और जंगलो को ,पंचायती जमीन को, गाँव में स्थित कुओं को , गाँव में स्थित टैंक और पथवेज़ को उचित ढंग से बनाना, टूटी चीज़ों की मरमत करवाना और उनका उचित रख रखाव करना.

8.ग्राम पंचायत की जिम्मेदारी है - गाँव के सार्वजनिक स्थलों जैसे- चौपालो , गली और  सामाजिक स्थलों पर स्ट्रीटलाइट्स का प्रबन्ध करना.

9.ग्राम पंचायत की जिम्मेदारी है -  गाँव में लगने वाले मेले, दंगल, कबड्डी, तथा बाजार में उचित व्यवस्था बनाये रखना और जहाँ आवश्यकता हो पार्किंग और वाहनों को खड़ा करने के लिए स्टैंड की व्यवस्था करना.

10. ग्राम पंचायत की जिम्मेदारी है - दाह संस्कार और कब्रिस्तान का उचित रख रखाव किया जाए .

11. ग्राम पंचायत की जिम्मेदारी है - कृषि बढ़ोतरी कार्यकमो में हिस्सा लेना तथा ग्रामीणों को कृषि से सम्बंधित ग्रोथ के विषय में जानकारी उपलब्ध कराना और कृषि को बढ़ावा देने वाले प्रयोगों को अधिक से अधिक बढ़ावा देकर ग्रामीणों को प्रोत्साहित किया जाए .

12.ग्राम पंचायत की जिम्मेदारी है - गाँव में आर्गेनिक खेती को बढ़ावा देना और देशी और  विदेशी वस्तुओ के बीच का अंतर बताकर ग्रामीणों को देशी वस्तुओं के प्रयोग को अधिक प्रोत्साहित करना.

13. ग्राम पंचायत की जिम्मेदारी है - गाँव में पब्लिक लाइब्रेरी का स्थापित किया जाना, और प्राथमिक शिक्षा को बड़े स्तर पर बढ़ावा देना .

14.ग्राम पंचायत की जिम्मेदारी है - बच्चों के लिए खेल मैदानो का प्रबन्ध किया जाए .साथ ही  खेल कूद से सम्बंधित सामग्री की भी सही मात्रा में व्यवस्था की जाए. इतना ही नही तरह तरह की प्रतियोगिता कराकर बच्चों में खेल और पढाई के प्रति नयी ऊर्जावान भावना का संचार किया जाए. 

15.ग्राम पंचायत की जिम्मेदारी है - सफाई अभियान को काफी आगे बढ़ाया जाए,और गाँव में सार्वजनिक शैचालयो का प्रबन्ध करना तथा  उनके रख रखाव का उचित प्रबन्ध करना. साथ ही ग्रामीणों में ये सोच विकसित करना कि, घर में शैचालयो का होना बहुत ही जरूरी है.

16.ग्राम पंचायत की जिम्मेदारी है - ग्रामीण सड़क पर सार्वजनिक पेड़ लगाना और उनका उचित रख रखाव किया जाना .साथ ही ग्रामीणों में वृक्षारोपण की भावना को बहुत अधिक बढ़ावा दिया जाए . 

17. ग्राम पंचायत की जिम्मेदारी है -  गाँव टैक्सेज जैसे - चूल्हे टैक्स आदि का कैलेक्शन करवाना .

18. ग्राम पंचायत की जिम्मेदारी है -  बेटियो को बचाया जाए और बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के नारे के महत्व को  हर एक ग्रामीण को समझाया जाए .

19. ग्राम पंचायत की जिम्मेदारी है -  ग्रामीणों को शराब की बुरी लत, ड्रग्स का इस्तेमाल करने  से दूर रहने की सलाह देना और जरुरी हो ,तो इन सब बातों को बढ़ावा देने वाले लोगों के विरुद्ध उचित कार्यवाही करना.

20. ग्राम पंचायत की जिम्मेदारी है -  गाँव के लोगो को फारेस्ट स्कीम के विषय में जागरूक   करना और गाँव में आमदनी बढ़ाने हेतु पेड़ पोधे लगाने के लिए ग्रामीणों को प्रोत्साहित करना
 
21. ग्राम पंचायत की जिम्मेदारी है -  चौकीदार के साथ मिलकर जन्म का, मृत्यु का, विवाह का ,सही लेखपत्र (रिकॉर्ड) रखना और प्रशासन को सूचना देना.

22. ग्राम पंचायत की जिम्मेदारी है -  गरीब बच्चों को मुफ्त में शिक्षा और ट्रांसपोर्ट की व्यवस्था करना.

23.ग्राम पंचायत की जिम्मेदारी है -  जवान बच्चों के लिए ऊँची शिक्षा की व्यवस्था करना और  जॉब ओरिएंटेड प्रोग्राम की व्यवस्था करना.

24.ग्राम पंचायत की जिम्मेदारी है - गाँव में भाई चारे का माहौल बनाए रखने में मदद करना , झगड़ों को सुलझाना और खुशनुमा माहौल पैदा करना.

25. ग्राम पंचायत की जिम्मेदारी है - गाँव की भलाई हेतु सरकार से ग्रांट व गरीबों की मदद के लिए उचित रास्ते तलाशना.

26.ग्राम पंचायत की जिम्मेदारी है -  गाँव में घटित किसी भी दुखद घड़ी में सभी के साथ मिल -बैठकर दुःख को बाटना व समस्या का समाधान खोजना .

27.ग्राम पंचायत की जिम्मेदारी है - आगनवाड़ी केंन्द्रों को सुचारू रूप में चलाने की व्यवस्था  करना

28.ग्राम पंचायत की जिम्मेदारी है - गरीबों के लिए प्लाट काटना  और ग्राम पंचायत की जमीन को पटटे पर देना की व्यवस्था करना .

30. ग्राम पंचायत की जिम्मेदारी है - सरकार के डिजिटल हरयाणा और डिजिटल इंडिया मिशन में सहयोग करना ,तथा लोगों को जागरूक करे व सबका साथ सबका विकास नारे को  ग्रामीण लोगो के जहन तक पहुचाया जाए . जिससे देश को आगे ले जाने में काफी मदद मिले.

31.ग्राम पंचायत की जिम्मेदारी है -  मनोरंजन, सोशल वेलफेयर स्कीम, बचत भावना, बीमा, कृषि ऋण, मुआवजा, राशन कार्ड, वोटर कार्ड, पेन कार्ड, पासपोर्ट, पब्लिक/ गवर्नमेंट स्कीम, स्वच्छता अभियान, कन्या बीमा योजना आदि के विषय में पूर्ण जानकारी रखना

 सरपंच की चुनावी प्रक्रिया और जिम्मेदारी क्या -क्या होती है ? 
 किसी गाँव का मुखिया सरपंच कहलाता है. उसे गाँव का मुखिया गाँव की भलाई के लिए बनाया जाता है .वो गांव की भलाई से सम्बन्धित फैसले लेता है. ग्राम पंचायत द्वारा किये गये कार्य ऊपर लिखे जा चुके है.जो इनसे जुड़े कार्यो की पूर्ण जानकारी देते है .सरपंच की भूमिका किसी भी गांव में अहम होती है. गांव की भलाई के लिए कार्य करने  की शक्ति सरपंच के हाथो में शक्ति होती है. ये सभी कार्यों करना उसकी जिम्मेदारी होती है.

पंच का चुनाव और उसके कर्तव्य जान लेते है  
पंच का चुनाव वार्ड के अंतर्गत किया जाता है. एक गांव में पंचायत के 5 से 21 उम्मीदवार तक हो सकते है. गाँव की जनसँख्या के आधार पर पंच की कुछ सीटें SC, BC , तथा कुछ लेडीज के लिए आरक्षित की जाती है.पंच भी गाँव में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है.पंच की मेजोरिटी के आधार पर ही एक सरपंच कोई काम प्लान और परफॉर्म कर सकता है. जब तक सरपंच के पास पंच की मेजोरिटी नहीं होगी वह कोई कार्य नही कर सकता.


Binoculars/Information