Loading

Enquiry
articale
digital advertising
Contact Form

भारत के शक्तिशाली टैंक अर्जुन

अर्जुन-1 के पश्चात विकसित हुए शक्तिशाली युद्धक टैंक, अर्जुन मार्क-टैंक भारतीय सेना की सबसे बड़ी ताकत है, अर्जुन मार्क- टैंक भारतीय सेना का मुख्य युद्धक टैंक है जिसे बहुत  खतरनाक माना जाता है। यह अर्जुन टैंक का अत्याधुनिक थर्ड जेनेरेशन टैंक है जिसमें कई सुधार हुए है। ये टैंक किसी भी परिस्थिति में शानदार और जबरदस्त मार कर सकता है। यह टैंक पलक झपकते ही अपने शिकार को निशाना बना लेता है। और साथ ही इसके ऊपर रिमोट संचालित मशीन गन भी लगी होती हैं। सेना में इसे दीवार भी कहा जाता है जिसे तोड़ना दुश्मनों के बस की बात नही है। और तो और इसे तोड़ना दुश्मनों के लिए मुश्किल ही नही नामुमकिन भी है साथ ही भारत के मुख्य युद्धक टैंक एमबीटी अर्जुन मार्क-2 का अंतिम परीक्षण इस साल 2017 में, अगस्त के पहले सप्ताह में ही राजस्थान में किया जाएगा। अत्याधुनिक उपकरणों से लैस यह युद्धक टैंक, अर्जुन मार्क-1 का ही उन्नत संस्करण होगा।
सूत्रों के अनुसार अर्जुन मार्क-2 टैंक का परीक्षण वैसे तो राजस्थान में चल ही रहा है, लेकिन अंतिम परीक्षण अगस्त में ही होगा। जानकारी के अनुसार सेना ने इस टैंक में 19 बड़े बदलावों के साथ ही कुल 93 सुधार के सुझाव दिए थे जिन्हें अब पूर्ण कर लिया गया है। अर्जुन मार्क-2 से मिसाइल का भी सफल प्रक्षेपण किया जा सकेगा। यह टैंक बारूदी सुरंगों का पता लगाने में भी समर्थ होगा, साथ ही यह ऑटोमैटिक टारगेट ट्रैकिंग तथा एडवांस्ड लैंड नेविगेशन सिस्टम जैसी आधुनिक तकनीक से भी लैस होगा है। अर्जुन मार्क-2 से एक बार में 500 राउंड फायर किया जा सकता है जो टी-72 टैंक के 250 राउंड की क्षमता से बहुत ज्यादा है। चेन्नई में स्थित युद्धक वाहन अनुसंधान, विकास प्रतिष्ठान ने अर्जुन मार्क-2 का डिजाइन तैयार किया है।


Binoculars/Information