Loading

Enquiry
articale
digital advertising
Contact Form

वनडे रैंकिंग में टॉप पर कायम है विराट कोहली

भारतीय कप्तान विराट कोहली आईसीसी की जारी ताजा वनडे रैकिंग में बल्लेबाजों की सूची में शीर्ष पर बने हुए हैं. कोहली के 873 अंक हैं और श्रीलंका के खिलाफ रविवार से दाम्बुला में शुरू होने वाली 5 वनडे मैचों की सीरीज के दौरान उनके पास दूसरे नंबर पर काबिज ऑस्ट्रेलियाई डेविड वॉर्नर पर बढ़त बनाने का अच्छा मौका रहेगा. इन दोनों के बीच अभी 12 अंक का अंतर है.

अगर श्रीलंका का यही प्रदर्शन जारी रहा तो हो सकता है वर्ल्ड कप -2019 से बाहर

अगर श्रीलंका 2019  में होने वाले वर्ल्ड कप में प्रवेश करना चाहता है तो उसको भारत के खिलाफ होने वाले वन-डे मैचों में जीत दर्ज करनी होगी , 
 
भारत के खिलाफ श्रीलंका की पांच वनडे मैचों की सीरीज की शुरुआत 20 अगस्त से हो रही है. वर्तमान में वनडे रैंकिंग में श्रीलंका 88 अंकों के साथ आठवें स्थान पर है. अगर वह भारत के खिलाफ दो वनडे मैचों में जीत हासिल करता है, तो उसके पास 90 अंक हो जाएंगे.
 
वनडे रैंकिंग में 78 अंकों के साथ नौवें स्थान पर काबिज वेस्ट इंडीज टीम अगर आयरलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज व इंग्लैंड के खिलाफ पांच वनडे मैचों में जीत हासिल करती है, तो उसके पास 88 अंक हो जाएंगे. श्रीलंका को ऐसे में वेस्ट इंडीज से पिछड़ने का डर है.
 
मेजबान इंग्लैंड के साथ वनडे रैंकिंग में शीर्ष सात टीमें सीधे तौर पर 2019 विश्व कप टूर्नमेंट में प्रवेश करेंगी.

एलेस्टेयर कुक अगर इसी रफ्तार से चले तो जल्द तोड़ देंगे सचिन तेंदुलकर का रिकॉर्ड

इंग्लैंड के बल्लेबाज एलेस्टेयर कुक अगर इसी रफ्तार से रन बनाते रहे तो वो जल्द विश्व के महान खिलाडी सचिन तेंदुलकर का रिकॉर्ड तोड़ सकते है ,  सचिन तेंदुलकर ने  200 टेस्ट की 329 पारियां खेली है जिसमें उन्होंने 15921 रन बनाये है 
 
वही एलेस्टेयर कुक ने 145 टेस्ट में  262 पारी खेलते हुए 11568 रन बनाये है 
इस तरह कुक सचिन से महज 4353 रन दूर है 

पूर्व कोच अनिल कुंबले को कभी 'स्ट्रिक्ट' नहीं देखा - ऋद्धिमान साहा

 

श्रीलंका से लौटे ऋद्धिमान साहा ने कहा है कि, मुझे ऐसा नहीं लगा कि कोच के तौर पर अनिल कुंबले को  कभी  सख्त होना पड़ा. कुछ ने उन्हें सख्त मिजाज माना, जहां तक मेरा मानना है, अनिल भाई के कोच रहते मुझे ऐसा कुछ भी नहीं लगा.
दोनों कोच की तुलना करते हुए साहा ने कहा, अनिल भाई 400, 500 या 600 का टीम स्कोर के साथ विरोधी टीम को 150-200 के स्कोर पर आउट करने की बात कहते थे, जो हमेशा संभव नहीं है. जबकि रवि भाई कोई टारगेट नहीं, बल्कि विरोधी टीम को टिकने से पहले ही बाहर का रास्ता दिखाने की बात करते हैं.

श्रीलंका पहुंचने के बाद धोनी ने किया कड़ा अभ्यास

धोनी ने नेट्स पर भारतीयों और श्रीलंकाई गेंदबाजों का सामना किया। शुरुआत में वो थोड़े असहज नजर आए, लेकिन फिर उन्होंने अपने शॉट्स लगाना शुरू किए तो हर कोई देखकर हक्का-बक्का रह गया।


और अधिक क्रिकेट खबर के लिए