Loading

Enquiry
articale
digital advertising
Contact Form

सहकारी बैंक RBI में जमा करवा सकते है 500 और 1000 रुपये के प्रतिबंधित नोट

500 रुपये, 1000 रुपये के प्रतिबंधित नोटों को सहकारी बैंक रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया में जमा करवा सकते हैं. वित्त मंत्रालय ने नोटिफिकेशन जारी कर इस बाबत अनुमति दी है कि अगले 30 दिनों के भीतर ऐसा किया जा सकता है. यह राहत ऐसे समय में दी गई है जब कई जिलों से ऐसी रिपोर्ट्स आ रही थीं कि किसानों को धन देने के लिए को-ऑपरेटिव बैंकों के पास पर्याप्त कैश नहीं है. इसके बाद सरकार ने बैंकों, पोस्ट ऑफिस, जिला केंद्रीय कोऑपरेटिव बैंकों को 500-1000 रुपये के पुराने नोटों को तीस दिनों के भीतर आरबीआई से एक्सचेंज करने की अनुमति दी है. सहकारी बैंकों के पास पुराने नोट काफी संख्या में पड़े हैं और ऐसे मामले महाराष्ट्र से खासतौर से सामने आए हैं. बैंकों का कहना है कि वे किसानों को इसके चलते कैश नहीं दे पा रहे हैं. नोटबंदी के छह माह बीत जाने के बाद भी उनके पास पुराने नोटों के बंडल हैं जिन्हें वे एक्सचेंज नहीं करवा पाए और अब आरबीआई इन्हें स्वीकार नहीं कर रहा है. नासिक के जिला केंद्रीय सहकारी बैंक ने कहा- उनके पास 340 करोड़ रुपये की कीमत वाले 500 व 1000 रुपये के नोट हैं. DCCB के चेयरपर्सन नरेंद्र दाराडे ने कहा कि जब तक इन नोटों को नए नोटों से बदला नहीं जाएगा तब तक पेमेंट करना मुश्किल होगा. बता दें कि 8 नवंबर को विमुद्रीकरण के तहत पीएम मोदी ने 500 व 1000 रुपये तत्कालीन नोटों को तुरंत प्रभाव से अवैध करार दिया था.


706 रुपए से शुरू एयर इंडिया के टिकट,ये ऑफर केवल 17 जून से 21 जून तक

एयर इंडिया (Air India) ने अपनी 'सावन स्पेशल' सेल के तहत यात्रियों को लुभावना ऑफर दिया है. इसके तहत एयर इंडिया के टिकट 706 रुपए से शुरू हो रहे हैं. जबकि  ये ऑफर केवल घरेलू गंतव्यों के लिए है. मगर ध्यान दें कि यदि आप इस ऑफर का लाभ लेना चाहते हैं तो आपको 17 जून से 21 जून के बीच टिकट बुक करानी होगी. ये ऑफर्स 1 जुलाई से 20 सितंबर तक यात्रा करने वालों के लिए हैं. एयर इंडिया ने अपने ट्विटर हैंडल के जरिए यह जानकारी दी है. कुछ दिन पहले विस्तारा एयरलाइंस ने जबरदस्त ऑफर पेश किया था. कंपनियां यात्रियों को आकर्षित करने के लिए नित नए ऑफर पेश करती रहती हैं लेकिन पाठकों से गुजारिश है कि वह इन ऑफर्स को लेकर अपने स्तर पूरी तरह छानबीन करें और तमाम टैक्स आदि के लागू हो जाने के बाद ही  संबंधित आखिरी फैसला लें. एयर इंडिया अब अपनी अंतरराष्ट्रीय उड़ानों में इकॉनमी श्रेणी के यात्रियों को खाने में सलाद नहीं परोसने के बारे में विचार कर रही है. इसके अलावा लागत घटाने के लिए वह विमान में रखी जाने वाली पत्रिकाओं की संख्या कम करने के बारे में सोच सकती है. यह वह कुछ कदम हो सकते हैं जिनका प्रस्ताव एयर इंडिया के कर्मचारियों ने लागत घटाने के लिए किया है. सरकार एयर इंडिया के निजीकरण पर विचार कर रही है और उसने कंपनी को किसी तरह का राहत पैकेज देने से भी इंकार कर दिया है. एयर इंडिया के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक अश्विनी लोहानी को केबिन क्रू के एक प्रभारी समेत एक वरिष्ठ अधिकारी ने पत्र लिखकर कहा था, आज मेरी उड़ान के दौरान साथ कार्य कर रहे केबिन क्रू प्रभारी ने लागत घटाने का सुझाव देते हुए कहा कि अंतरराष्ट्रीय उड़ानों में हम इकॉनश्रेणी के यात्रियों के भोजन से सलाद हटा सकते हैं


आज 16 जून से रोजाना बदलेंगे पेट्रोल और डीजल के दाम

पेट्रोल और डीजल की कीमतों में गुरुवार को कटौती का ऐलान किया गया. पेट्रोल की कीमत में 1.12 रुपये प्रति लीटर की कटौती की गई, जबकि डीजल 1.24 रुपये प्रति लीटर सस्ता हुआ है. नई कीमतें 16 जून से प्रभावी होंगी. दरअसल, पेट्रोल-डीजल के दाम रोजाना बदलने की व्यवस्था आज से लागू हो जाएगी. सार्वजनिक पेट्रोलियम कंपनी इंडियन ऑयल ने कहा है कि कीमतों में आज की कटौती में राज्य शुल्क (वैट) शामिल नहीं है. स्थानीय बिक्री कर या वैट को शामिल करने पर वास्तविक कटौती अधिक होगी. शुक्रवार से दिल्ली में पेट्रोल के दाम 65.48 रुपये प्रति लीटर होंगे जो इस समय 66.91 रुपये प्रति लीटर हैं. वहीं, डीजल के दाम 54.49 रुपये प्रति लीटर रहेंगे, जो इस समय 55.94 रुपये हैं. आईओसी का कहना है कि 16 जून से देशभर में पेट्रोल व डीजल के दाम दैनिक आधार पर तय होंगे. हर दिन के लिए इनके नए दाम रहेंगे, जोकि सुबह छह बजे से लेकर अगली सुबह छह बजे तक यानी 24 घंटे लागू रहेंगे. दरअसल, बीते बुधवार को पेट्रोलियम कंपनियों के रोज पेट्रोल-डीजल के दाम बदलने के प्रस्ताव के विरोध में डीलरों द्वारा आहूत हड़ताल बुधवार को वापस ले ली गई थी. इसके साथ ही शुक्रवार (16 जून) से पेट्रोल-डीजल की कीमतों में रोज बदलाव का रास्ता साफ हो गया था. सरकार ने डीलरों की यह मांग मान ली थी कि कीमतों की घोषणा आधी रात को करने के बजाए सुबह छह बजे की जाए. केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने पत्रकारों से कहा था कि डीलर नए समय और देशव्यापी पेट्रोल और डीजल की कीमतों में संशोधन 16 जून से करने पर राजी हो गए हैं. प्रधान ने कहा, "कुछ व्यावहारिक कठिनाइयां थीं, जो हमने आज सभी तीन पेट्रोलियम डीलरों एसोसिएशन के नेतृत्व के साथ बैठक के दौरान हल कर ली है. दैनिक कीमतें सुबह छह बजे बदली जाएंगी".


GST आने से पहले ही हो रही ऑफर्स की बरसात,ब्रांडेड सामान पर 50% तक की भारी छूट

कपड़े, जूते-चप्पल से लेकर कार तक अगर आप कुछ भी खरीदना चाहते हैं तो यह आपके लिए सबसे अच्छा समय है। क्योकि 1 जुलाई से जीएसटी लागू होने से ठीक पहले तमाम कंपनियां स्टॉक क्लीयर करने के लिए हैवी डिस्काउंट ऑफर कर रही हैं। यह डिस्काउंट कंपनी की ओर से सीधे और ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म के जरिए दिए जा रहे हैं। गौरतलब है कि सरकार1जुलाई से जीएसटी को पूरे देश में लागू कराने का भरसक प्रयास कर रही है। जीएसटी के आने के बाद तमाम प्रोडक्ट्स पर लगने वाले टैक्स बदल जाएंगे, जिसके कारण कंपनियां जीएसटी से पहले मौजूदा स्टॉक्स को खत्म करना चाहती हैं। प्यूमा, बेटा, ओनली, जैक एंड जोंस, वेरो मोडा, लुइस फिलिप, वेन ह्यूसेन, बेनेटोन और यूएस पोलो ने पहले ही देश के प्रमुख शहरों में अपनी सेल की शुरूआत कर दी है। वहीं अगर रिटेल चेन की बात करें तो पेंटालून, लाइफस्टाइल, शॉपर्स स्टॉप की ओर से फॉर्म एंड ऑफ सीजन सेल की शुरूआत किया जाना बाकी है, लेकिन उन्होंने पहले ही सेलेक्टेड ब्रैंड्स पर 20 से 40 फीसद की छूट देना शुरू कर दिया है। देश की बड़ी रिटेल कंपनियों में से एक ऐलन सॉली ने प्री-जीएसटी ऐंड ऑफ सीजन सेल में अपने मेंबर्स के लिए बाइ वन, गेट वन फ्री स्कीम शुरू की है। लेवाइस दो सामान खरीदने पर दो आइटम्स फ्री दे रही है, जबकि फ्लाइंग मशीन 50 फीसद की छूट और पेपे जीन्स ‘बाय थ्री, गेट थ्री’ ऑफर चला रहा है। ब्रैंड प्यूमा अपने स्टोर्स पर 40 फीसद के फ्लैट डिस्काउंट के साथ 10 फीसद की एक्स्ट्रा छूट दे रहा है। एयर कंडिशनर्स, वॉशिंग मशीन, फ्रिज जैसे इलेक्ट्रॉनिक सामान 10-40 फीसद की छूट पर मिल रहे हैं। जीएसटी लागू होने के बाद इन पर 28 फीसद टैक्स लगेगा, जबकि वर्तमान कर प्रणाली में इन पर वैट और एक्साइज ड्यूटी मिलाकर 21 से 23 फीसद ही कर लगता है। बजाज ऑटो ने अपने मोटरसाइकिलों की कीमतों में 4,500 रुपए तक की कटौती की घोषणा की, ताकि ग्राहकों को जीएसटी की उम्मीद के मुताबिक लाभ मिल सके। बजाज ऑटो ने एक बयान में कहा, 1 जुलाई से ज्यादातर राज्यों में मोटरसाइकिल पर लगने वाले करों में कमी आएगी। हालांकि, हर राज्य में लाभ और मोटर साइकिल मॉडल की कीमतें भी अलग-अलग हैं। मारुति सुजुकी ऑल्टो 800 स्टैण्डर्ड की कीमत बोनस डिस्काउंट से पहले 2.46 लाख रुपये थी। लेकिन बोनस डिस्काउंट के बाद अब इसकी कीमत 1.97 लाख रुपये हो गई है, जिसमें 31 हजार रुपये कंज्यूमर डिस्काउंट और 18 हजार रुपये एक्सचेंज बोनस के रूप में कम कर दिए हैं। गाड़ी की ऑन रोड कीमत के लिए आपको अपने नजदीकी मारुति डीलर से संपर्क करना होगा।
बिग बाजार में भी शानदार ऑफर्स की पेशकश
बिग बाजार में भी शानदार ऑफर्स की पेशकश की जा रही है। इसका फायदा आप 16 जून से 26 जून तक उठा सकते हैं। फैशन कैटेगरी में 2000 रुपए तक के खर्चे पर 50 फीसद का कैशबैक दिया जा रहा है। कैशबैक की लिमिट 2000 रूपए की खरीद बकेट में ही प्रतिबंधित है यानी अगर आपने 5000 की खरीद की है तो आपको 4,000 का ही 50% कैशबैक मिलेगा।


25 जून को GST के लिए रजिस्ट्रेशन करने का एक और मौका दिया जा रहा है

एक्साइज, वैट और सर्विस टैक्स में रजिस्टर्ड कारोबारियों के लिए जीएसटी नेटवर्क पर रजिस्ट्रेशन की अवधि 15 जून को खत्म हो रही है। लेकिन जो कारोबारी गुरुवार तक ऐसा नहीं कर पाते, उन्हें एक और मौका मिलेगा। उनके लिए रजिस्ट्रेशन विंडो 25 जून को फिर खुलेगी। एक्साइज, वैट और सर्विस टैक्स के तहत अभी करीब 80 लाख असेसी हैं। इनमें से 64.35 लाख यानी 80% जीएसटीएन पर माइग्रेट हो चुके हैं। जीएसटीएन पर ही डिटेल्स अपलोड करेंगे कारोबारी...
- जीएसटीएन नए टैक्स सिस्टम का सबसे अहम हिस्सा है। कारोबारियों को हर महीने बिक्री के डाटा से लेकर रिटर्न तक, सारी जानकारियां इसी पर अपलोड करनी हैं। रिफंड भी यहीं क्लेम करना होगा।
- मौजूदा असेसी का जीएसटीएन पर माइग्रेशन पहली बार नवंबर 2016 में शुरू हुआ था। यह 31 मार्च 2017 तक चालू था, जिसे बाद में 30 अप्रैल तक बढ़ाया गया था।
- माइग्रेशन का मौजूदा फेज 1 जून से शुरू हुआ था। इन दो हफ्तों में करीब 4.35 लाख असेसी नेटवर्क पर एनरोल हो चुके हैं।वैलिड पैन वालों को रजिस्ट्रेशन जरूर मिलेगा
- जीएसटीएन चेयरमैन नवीन कुमार ने कहा कि टैक्स विभाग कारोबारियों को सहूलियत देने के लिए तैयार है। ट्रेडर्स को भी रजिस्ट्रेशन प्रॉसेस जल्द पूरी करनी चाहिए। 15 जून के बाद जो लोग बचेंगे, उनके लिए 25 जून से फिर से विंडो खोलेंगे। जिनके पास वैलिड पैन हैं, उन्हें जीएसटी रजिस्ट्रेशन जरूर मिलेगा।



और अधिक व्यापार खबर के लिए