Loading

Enquiry
articale
digital advertising
Contact Form

अगर हो थाइरॉइड तो रहे इन चीजों से दूर

देश में हर 10वां व्यक्त‍ि थायरॉइड का शिकार है. यह खुलासा Indian Thyroid Society की एक हालिया रिपोर्ट में किया गया है. खासतौर से महिलाओं में थाइरॉइड के मामले बढ़े हैं.शोधकर्ताओं के अनुसार जागरुकता के अभाव में यह बीमारी अपने  पैर पसार रही  है. थाइरॉइड की वजह से अस्थमा, कोलेस्ट्रॉल की समस्या, डिप्रेशन, डायबिटीज, इंसोमनिया और दिल की बीमारियों का खतरा बढ़ा है.
डॉक्टरों की राय के अनुसार  तो कुछ खास चीजों को खाने से थाइरॉइड बढ़ जाता है. ऐसे में यह जान लेना जरूरी है कि थाइरॉइड के दौरान किन चीजें को खाने से परहेज करना चाहिए.
1. आयोडीन वाला खाना:
थायरॉइड ग्लैंड्स हमारे शरीर से आयोडीन लेकर थायरॉइड हार्मोन पैदा करते हैं, इसलिए
हाइपोथायरॉइड है तो आयोडीन की अधिकता वाली खाने-पीने की चीजों से जीवनभर दूरी बनाए रखें. सी फूड और आयोडीन वाले नमक को पूरी तरह नजरअंदाज करें.
2. कैफीन:
कैफीन वैसे तो सीधे थायरॉइड नहीं बढ़ाता, लेकिन यह उन परेशानियों को बढ़ा देता है, जो थायरॉइड की वजह से पैदा होती हैं, जैसे बेचैनी और नींद में खलल.
3. रेड मीट:
रेड मीट में कोलेस्ट्रॉल और सेचुरेडेट फैट बहुत होता है. इससे वेट तेजी से बढ़ता है. थायरॉइड वालों का वेट तो वैसे ही बहुत तेजी से बढ़ता है. इसलिए इसे न खायें. इसके अलावा रेड मीट खाने से थायरॉइड वालों को बदन में जलन की शिकायत होने लगती है.
4. एल्कोहल:
एल्कोहल यानी शराब़, बीयर वगैरा शरीर में एनर्जी के लेवल को प्रभावित करता है. इससे थायरॉइड की समस्या वाले लोगों की नींद में दिक्कत की शिकायत और बढ़ जाती है. इसके अलावा इससे ओस्टियोपोरोसिस का खतरा भी बढ़ जाता है.
5. वनस्पति घी:
वनस्पति घी को हाइड्रोजन में से गुजार कर बनाया जाता है. यह अच्छे कोलेस्ट्रॉल को खत्म करते हैं और बुरे को बढ़ावा देते हैं. बढ़े थायरॉइड से जो परेशानियां पैदा होती हैं, ये उन्हें और बढ़ा देते हैं. ध्यान रहे इस घी का इस्तेमाल खाने-पीने की दुकानों में जमकर होता है. इसलिए बाहर का फ्राइड खाना न ही खाएं.


और अधिक स्वस्थ्य के लिए