Loading

Enquiry
articale
digital advertising
Contact Form

69 फीसद लोग चाहते हैं 1000 रुपये के नोट की हो वापसी, सर्वे में सामने आई बात

देश में ज्यादातर लोग चाहते हैं कि बाजार में 1000 रुपये के नोट की वापसी हो। नोटबंदी के आठ महीने बाद एक सर्वेक्षण में यह बात सामने आई है। सरकार ने पिछले साल आठ नवंबर को 500 रुपये और 1000 रुपये के नोटों को अमान्य करार दे दिया था।
नोटबंदी के तुरंत बाद रिजर्व बैंक ने 2000 रुपये के नए नोट जारी किए थे। कुछ समय बाद 500 रुपये के नए नोट भी जारी कर दिए गए। लेकिन 1000 रुपये के नोट जारी करने की संभावना से रिजर्व बैंक इन्कार करता रहा है। हैदराबाद के न्यूज एप वे-टू-ऑनलाइन ने इस संबंध में एक सर्वेक्षण किया। इसमें लोगों से 1000 रुपये के नोट की जरूरत को लेकर सवाल किया गया। सर्वेक्षण में 69 फीसद लोगों ने माना कि 1000 रुपये के नोट दोबारा लाए जाने चाहिए। उनका मानना है कि 500 रुपये और 2000 रुपये के बीच बहुत बड़ा अंतर है। इस वजह से कई बार खुले पैसे की परेशानी होती है। सर्वेक्षण में 62 फीसद लोगों ने कहा कि नोटबंदी के बाद उन्हें बड़े नोट भुनाने में काफी दिक्कत हुई। लेनदेन को सुगम बनाने के लिए रिजर्व बैंक ने पिछले महीने 200 रुपये के नोट भी जारी किए हैं। अलबत्ता अभी तक ये बाजार में पूरी तरह नहीं पहुंच पाए हैं।


और अधिक व्यापार खबर के लिए