• Article Image

    एमएलसी के चुनाव में कोरोना से बचने पर जोर

    Posted by -

    विधान परिषद का मेरठ खंड स्नातक और शिक्षक सीटों के लिए एक दिसंबर को बागपत के सभी छह ब्लाक और बड़ौत नगर.

    पालिका परिषद कार्यालय समेत सात वोटिंग केन्द्रों पर वोट होगा। इसके लिए शुक्रवार को डीएम शकुंतला गौतम ने कलक्ट्रेट सभागार में पीठासीन व मतदान अधिकारियों को वोटिंग कराने के गुर बताए।

    डीएम ने कहा कि तीस नवंबर को कलक्ट्रेट से मतदान पार्टी बूथों के लिए रवाना की जाएंगी। पीठासीन अधिकारी अपनी डायरी अवश्य भरेंगे। जोनल और सेक्टर मजिस्ट्रेट चौकन्ने रहकर अपनी ड्यूटी देंगे।

    कोरोना से बचाव के लिए पीठासीन अधिकारी और मतदान कार्मिक बीच में एक-एक सीट खाली छोड़कर बैठेंगे। अधिकारियों और कर्मियों को मत पेटिका खोलने और सील करने की खबर दी है। सीडीओ अभिराम त्रिवेदी, अपर जिलाधिकारी अमित कुमार सिंह, जिला विकास अधिकारी हुब लाल ने भी चुनाव के नियम-कायदों की खबर दी। आबादी में मोबाइल टावर लगवाने से रोष, एसडीएम से की शिकायत

    छपरौली कस्बे में रिहायश में मोबाइल टावर लगाने से रोष है। इसके विरोध में बड़ौत तहसील पहुंचे कस्बावासियों ने एसडीएम को ज्ञापन देकर गठन रुकवाने की गुहार लगाई।

    शुक्रवार को तहसील पहुंचे लोगों ने बताया कि छपरौली की धंधान पट्टी में एक मकान की छत पर अवैध रूप से मोबाइल टावर लगवाने के लिए गठन कराया जा रहा है। आबादी में मोबाइल टावर लगने से उसके विकिरण से मरीजों और छोटे बच्चों के प्रभावित होने की आशंका रहती है। इसके अलावा जहां मोबाइल टावर लगाया जाना है वहां से मात्र 50 मीटर की दूरी पर ही छोटे बच्चों का स्कूल भी संचालित है। ज्ञापन देने वालों में रविद्र, अतुल शर्मा, मुनेश देवी, ब्रजेश, सुदेश, रीता, राकेश आदि शामिल थे।