• Article Image

    3,637 कमरों में परीक्षा देंगे 87,297 परीक्षार्थी

    Posted by -

    यूपी बोर्ड परीक्षा 2021 के लिए जिले में बने 116 परीक्षा केंद्रों पर परिषद मुख्यालय ने अंतिम मुहर लगा दी है। सभी जिलों के परीक्षा केंद्रों की सूची परिषद ने वेबसाइट पर अपलोड कर दी है। स्कूल, शिक्षक, परीक्षार्थी व अभिभावक सूची देखकर जान सकते हैं कि किसका परीक्षा केंद्र किस स्कूल को बनाया गया है। इस बार हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षा में कुल 87,297 परीक्षार्थी शामिल होंगे। कोविड के चलते एक कमरे में अधिकतम 24 परीक्षार्थियों को ही बैठाया जाएगा। इसके लिए कुल 3,637 कमरों की आवश्यकता पड़ेगी। इस लिहाज से हर परीक्षा केंद्र पर औसतन 31 कक्ष की जरूरत होगी।

    12वीं से ज्यादा 10वीं में परीक्षार्थी
    12वीं के मुकाबले 10वीं में परीक्षार्थियों की संख्या अधिक है। 10वीं में 44,738 रेगुलर और 401 प्राइवेट परीक्षार्थी हैं, वहीं 12वीं में 40,315 रेगुलर और 1,843 प्राइवेट परीक्षार्थी हैं। परीक्षा केंद्रों में सबसे ज्यादा स्कूलों का केंद्र देवनागरी इंटर कालेज को बनाया गया है। यहां 24 स्कूलों के परीक्षार्थियों का सेंटर है। वहीं, सनातन धर्म इंटर कालेज में 23 स्कूलों को केंद्र बनाया गया है।

    23 बालिका स्कूल बने केंद्र
    जिले के माध्यमिक स्कूलों में 23 बालिका विद्यालयों को भी परीक्षा केंद्र बनाया गया है। इन विद्यालयों की छात्राओं के लिए स्वकेंद्र होगा। वहीं, अन्य स्कूलों में पढ़ने वाली छात्राओं के लिए नजदीक के परीक्षा केंद्र को निर्धारित किया गया है।

    मेरठ परिक्षेत्र में बने 1,567 परीक्षा केंद्र
    मेरठ परिक्षेत्र के अंतर्गत आने वाले चार मंडलों और 17 जिलों में कुल 1,567 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। इनमें 94 राजकीय विद्यालय, 903 सहायता प्राप्त विद्यालय और 570 वित्तविहीन विद्यालयों को परीक्षा केंद्र बनाया गया है,जबकि मेरठ जिले के 116 केंद्रों में छह राजकीय, 91 सहायता प्राप्त और 19 वित्तविहीन विद्यालय परीक्षा केंद्र बने हैं।