• Article Image

    Delhi- Meerut Expressway पर वाहनों ने खूब भरा फर्राटा

    Posted by -

    बहुप्रतीक्षित दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे गुरुवार सुबह सात बजे पूरी तरह से जनता के हवाले कर दिया गया। सभी बैरियर हटा दिए गए। इससे मेरठ से दिल्ली (60 किमी) तक वाहन फर्राटा भरने लगे। दशकों से मोदीनगर-मुरादनगर के जाम से जूझकर दिल्ली पहुंचने वाले लोगों ने रफ्तार पाकर खुशी व्यक्त की। उधर, केंद्रीय राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने एक्सप्रेस-वे को खोल देने की जानकारी देने को एक वीडियो के साथ ट्वीट किया। मेरठ-हापुड़ लोकसभा क्षेत्र के सांसद राजेंद्र अग्रवाल ने मेरठ से डासना तक निरीक्षण किया।

    मेरठ के परतापुर इंटरचेंज पर देहरादून बाईपास और मोदीनगर की तरफ वाले रैंप पर जो बैरियर रखे थे, उनमें से कुछ बैरियर हटा लिए गए हैं। इससे अब वाहन सीधे आने-जाने लगे हैं। रैंप पर बैरियर सिर्फ एक-एक गाड़ियों की निकलने की जगह के लिए हटाए गए हैं। ऐसा सुरक्षा की दृष्टि से किया गया है, ताकि अभी वाहन तेजी से न जाएं। जब धीरे-धीरे वाहन चालकों को इसकी आदत पड़ जाएगी, तब एक-एक बैरियर हटाए जाएंगे। इससे अब देहरादून बाईपास के वाहन रैंप पर चढ़ते हुए सीधे एक्सप्रेस-वे पर पहुंच रहे हैं। इंटरचेंज के लूप पर भी कुछ बैरियर रखे हुए थे, वे सभी हटा दिए गए हैं। वहीं, मेरठ शहर के वाहनों को भूड़बराल के पास यूटर्न बनाया गया है। वे वाहन वहां से करीब 400 मीटर वापस आकर बायीं तरफ लूप पर चढ़कर एक्सप्रेस-वे पर जाते हैं।

    डासना में निकास-प्रवेश के सभी रास्ते खुले : डासना के सभी बैरियर हटाए जा चुके हैं। जिससे दिल्ली व नोएडा आना-जाना आसान हो गया है। सभी रास्ते खोल दिए हैं।

    ईस्टर्न पेरीफेरल पर अभी नहीं उतर सकेंगे : दिल्ली मेरठ एक्सप्रेस-वे को कुशलिया में ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेस-वे से जोड़ा गया है, लेकिन अभी इन दोनों एक्सप्रेस-वे के वाहन एक-दूसरे पर नहीं आ-जा सकेंगे। दोनों को जोड़ने वाले इंटरचेंज को बैरियर लगा बंद किया गया है। कुछ स्थानों से जहां पर एक-दो वाहन निकल जाया करते थे, उसे भी बंद किया जाएगा। कुछ दिनों तक ईस्टर्न पेरीफेरल से आवाजाही बंद रहेगी।

    10 मई के बाद होगा एक्सप्रेस-वे का लोकार्पण

    एक्सप्रेस-वे के निरीक्षण के दौरान सांसद राजेंद्र अग्रवाल ने जानकारी दी कि 10 मई के बाद एक्सप्रेस-वे का लोकार्पण संभावित है। तिथि का निर्धारण केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के स्तर पर होना है। उन्होंने बताया कि गुरुवार को सामान्य तरीके से एक्सप्रेस-वे खोल दिया गया है। किसी भी तरह का कोई कार्यक्रम नहीं रखा गया था।