Enquiry
articale
digital advertising
Contact Form

एक्शन में आने लगीं रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण, ले रहीं ताबड़तोड़ फैसले


भारत की पहली पूर्णकालिक महिला रक्षामंत्री बनने के बाद निर्मला सीतारमण पूरी तरह से एक्शन में नज़र आ रही हैं। अब पूरे देश की निगाहें साउथ ब्लॉक में रक्षा मंत्रालय पर हैं। निर्मला सीतारमण ने रक्षामंत्री का पदभार संभालने के बाद कुछ महत्वपूर्ण फैसले लिए हैं।
रक्षा मंत्री ने वरिष्ठ अधिकारियों के साथ एक के बाद एक कई बैठकें करके खुद को रक्षा मंत्रालय की कार्यशैली से परिचित कराया और कई जटिल मुद्दों को लेकर स्पष्ट निर्देश जारी किए। बैठक के दौरान यह भी निर्णय लिया गया कि रक्षा पर सर्वोच्च निर्णय लेने वाला 'रक्षा अधिग्रहण परिषद' सैन्य अधिग्रहण प्रस्तावों पर निश्चित समय में मंजूरी सुनिश्चित करने के लिए हर पखवाड़े बैठक करेगा।
रक्षा अधिग्रहण परिषद का मुख्य उद्देश्य सशस्त्र बलों की आवश्यकताओं की शीघ्र खरीद और आवंटित बजटीय संसाधनों का बेहतर उपयोग करके निर्धारित समय सीमा को सुनिश्चित करना है। रक्षा अधिग्रहण परिषद में रक्षा मंत्री, रक्षा राज्यमंत्री, तीनों सेनाओ के प्रमुख, रक्षा सचिव सहित कई अन्य महत्वपूर्ण लोग होते हैं। 
एक्शन में आने लगीं रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण, ले रहीं ताबड़तोड़ फैसले