Loading

Enquiry
Enquiry
digital advertising
Contact Form

ट्वीट से छलका अखिलेश का दर्द, कठोर कार्रवाई को बताया बहुत जरूरी

सीएम अखिलेश यादव ने सपा में तख्‍तापलट की कार्रवाई को आवश्यक बताते हुए रात में एक ट्वीट किया जिसमें उनका दर्द छलकता साफ दिखाई दिया।
वर्चस्व की जंग में दो फाड़ हुई सपा में नववर्ष की सुबह जिस रूप में देखा उसका अनुमान पहले शायद ही किसी को रहा हो। सपा में हुए इस तख्तापलट के पश्चात मुलायम सिंह को अध्यक्ष पद से हटाकर उनके पुत्र व मुख्यमंत्री अखिलेश को सपा का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया गया है। साथ ही  शिवपाल यादव को प्रदेश अध्यक्ष पद से तथा अमर सिंह को पार्टी से निष्कासित कर दिया गया है। मुलायम सिंह को संरक्षक की भूमिका दी गई।
सीएम ने अपनी इस कठोर कार्रवाई को आवश्यक बताते हुए रात में एक ट्वीट किया जिसमें उनका दर्द छलकता दिखाई दिया। इसमें उन्होंने कहा था कि ''आप जिनसे प्यार करते हैं, कभी उनके बचाव के लिए सही फैसला लेना पड़ता है। मैंने आज कड़ा फैसला लिया लेकिन यह मुझे लेना ही चाहिए था।''
लेकिन खुद को सपा का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाए जाने से हैरान हुए मुलायम ने जवाबी कार्रवाई में  अधिवेशन को अवैध घोषित कर दिया। उसके पश्चात अधिवेशन के सूत्रधार प्रो. रामगोपाल यादव, किरनमय नंदा व नरेश अग्रवाल को सपा से बर्खास्त कर दिया गया। मुलायम ने पांच जनवरी को सपा का राष्ट्रीय सम्मेलन बुलाया। दूसरी तरफ सीएम अखिलेश ने विधान परिषद सदस्य नरेश उत्तम को प्रदेश अध्यक्ष नियुक्त किया।

मुलायम ने कहा अरे समाजवादी पार्टी मेरी है 
25 सालों से खून पसीने से सींची गई सपा को नया मुकाम देने वाले मुलायम सिंह रविवार को उस समय हैरान हो गए जब उनको राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से हटाये जाने की जानकारी मिली। यह सुनते ही उनके मुंह से सिर्फ यही निकला-'समाजवादी पार्टी मेरी है, और इसे मैंने ही बनाया है। सीएम अखिलेश और रामपाल यह भी कर सकते थे।'
मुलायम विक्रमादित्य मार्ग स्थित आवास से ही अधिवेशन पर नजर रखे थे और जनेश्वर मिश्र पार्क के घटनाक्रम की पल-पल की जानकारी ले रहे थे। सूत्रों का मानना है कि मुलायम को विश्वास नहीं हुआ कि उन्हें राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से हटाया जा चुका है। उन्हें लगता था कि अखिलेश कार्यकारी अध्यक्ष बनेंगे और उनका सम्मान रखेंगे। मुलायम सिंह के आवास पर कई कैबिनेट मंत्री डटे रहे, जिसमें मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति प्रमुख थे। शिवपाल अपने पुत्र आदित्य के साथ मुलायम सिंह के आवास पर आते- जाते रहे।

आजम ने कहा सपा में अब न कोई विवाद है न गुट 
उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री आजम खां ने यहां स्पष्ट कहा, सपा में न कोई गुट है न अब कोई विवाद ही है। पूर्व महाधिवक्ता स्व. एसएमए काजमी के पुत्र के दावत-ए-वलीमा में शामिल होने  आए आजम ने मीडिया से वार्ता में यह बात कही। केपी कम्युनिटी हाल में मीडिया से हुई वार्ता में आजम ने सिर्फ इतना ही कहा कि पार्टी के लिए जो ठीक है, वह पार्टी के वरिष्ठ नेता कर रहे हैं। परिवार में कुछ मनमुटाव है वह भी जल्द ही सुलझ जाएगा। लखनऊ में उन्होंने रविवार के घटनाक्रम पर कहा कि अब किसी प्रकार का कोई विवाद नहीं है। आजम के इलाहाबाद आने पर सपाइयों ने उनका भव्य स्वागत किया। सर्किट हाउस में भारी संख्या में पार्टीजन उपस्थित  रहे।